इन्हें कोराेना की परवाह नहीं / पूर्व मंत्री तरुण भनोत पहुंचे, तो संक्रमण भूले कांग्रेस कार्यकर्ता, ना मास्क पहना, ना सोशल डिस्टेंसिंग रखी

मध्यप्रदेश
ये तस्वीर मध्य प्रदेश के ग्वालियर में कांग्रेस कार्यालय की है। यहां किसी कांग्रेस नेता, पदाधिकारी और उनके कार्यकर्ताओं को कोरोना का डर नहीं है। उन्हें नियमों की भी परवाह नहीं है। ना तो सोशल डिस्टेंसिंग हैं और नही किसी ने मास्क पहना हुआ है।
  • ग्वालियर में पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की बैठक लेने के लिए पहुंचे थे कांग्रेस नेता
  • शहरकाजी की अंतिम यात्रा में 20 से अधिक लोगों के शामिल होने पर दोनों बेटों पर दर्ज हुआ था मामला

ग्वालियर. ये तस्वीर मध्य प्रदेश के ग्वालियर में कांग्रेस कार्यालय की है। यहां किसी कांग्रेस नेता, पदाधिकारी और उनके कार्यकर्ताओं को कोरोना का डर नहीं है। उन्हें नियमों की भी परवाह नहीं है। ना तो सोशल डिस्टेंसिंग हैं और नही किसी ने मास्क पहना हुआ है। यह दृश्य शनिवार को ग्वालियर आए पूर्व मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता तरुण भनोत की मौजूदगी का है। वे पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं की बैठक ले रहे थे।

राजनेताओं को नियमों से छूट क्यों दी जा रही

इससे पहले शहरकाजी की अंतिम यात्रा में 20 से अधिक लोगों के शामिल होने पर प्रशासन उनके दोनों बेटों पर एफआईआर दर्ज चुका है। ऐसे में राजनीति बैठक की अनुमति क्या दी गई थी। अगर दी गई तो किस शर्त पर दी गई, जहां नियमों की ही धज्जियां उड़ा दी गईं। सवाल ये है कि प्रशासन ने क्या इसके लिए अनुमति दी थी और यदि ऐसा था तो फिर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन क्यों नहीं कराया गया? राजनेताओं को नियमों से छूट क्यों दी जा रही है?

यहां की जनता दगाबाजों को सबक सिखाना जानती है
बैठक में पूर्व मंत्री तरुण भनोत ने कहा, 15 साल तक कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मेहनत को चंद विधायकों ने भाजपा के हाथों में देकर प्रदेश में कांग्रेस सरकार गिरा दी। ये ग्वालियर चंबल संभाग है और यहां की जनता दगाबाजों को सबक सिखाना जानती है। आने वाले उपचुनाव में भी लोग उन नेताओं को सबक सिखाएंगे, जिन्होंने भाजपा के प्रलोभन में आकर निर्वाचित सरकार को गिराने का काम किया।

जिसका नाम सर्वे में अच्छा होगा, उसे पार्टी उम्मीदवार बनाएगी

बैठक के बाद मीडिया से चर्चा में उन्होंने कहा कि बेशक उपचुनाव में भाजपा और ज्योतिरादित्य सिंधिया से सामना होगा। लेकिन वे अपनी विचारधारा लेकर चुनाव लड़ेंगे और कांग्रेस अपनी विचारधारा पर चुनाव लड़ेगी। भनोत ने कहा कि हम लोग किसी प्रत्याशी का नाम लेने या फिर संभावना देखने ग्वालियर नहीं आए हैं। क्योंकि, पार्टी उपचुनाव में टिकट सिर्फ सर्वे के आधार पर देगी। जिसका नाम सर्वे में अच्छा होगा, उसे पार्टी उम्मीदवार बनाएगी।

कोरोना पर कांग्रेस/ राहुल गांधी ने कहा- देश में कोरोनावायरस फैल रहा है और लॉकडाउन हटाया जा रहा, बंद का मकसद फेल हुआ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *